भारत का लिंग

17 May

इससे पहले की आपके दूषित मष्तिष्क कुछ और सोचें मैं यहाँ यह साफ कर देता हूँ की लिंग से मेरा तात्पर्य है पुल्लिंग एंव स्त्रीलिंग से.

जैसा की बोला जाता है …

ये है भारत हमारा.

या फिर

भारत हम सबका प्यारा है

हर वाकया में हम भारत को पुल्लिंग से ही,

कभी सुना है की भारत हमारी प्यारी?

नहीं ना ?

फिर भी भारत को माता क्यों बोलते हैं … पिता क्यों नहीं ?

कोई महानुभाव कृपया मेरी इस शंका का निवारण करें …

Advertisements

5 Responses to “भारत का लिंग”

  1. intutius June 12, 2008 at 3:59 pm #

    bharat is always be our mother

  2. kripacharya June 12, 2008 at 4:00 pm #

    Quite an observation

  3. Ankit June 12, 2008 at 4:02 pm #

    bloody spams .. ate preivious comments of this post .. x-( !!

  4. ankush July 23, 2008 at 11:53 am #

    दरअसलमें भारतिय अपनी माता से अधिक प्रेम करते है, भारत काे माता कहने से, ज्यादा नजदिकी महसूस हाेती है,
    पिता के खिलाफ लाख बाते कहे, किंतु माता के खिलाफ हम कभी कुछ नही सून सकते| हमारी राष्ट्रीय भावना काे प्रज्वलीत करने के लिए यह प्रचलन बनाया गया है| शायद इसी वजह से हम इसे माता कहते है|

  5. इवा January 12, 2009 at 5:11 pm #

    “भारत हम सबका प्यारा है” ऐसा तो कहीं नहीं कहा जाता,
    बल्कि यह कहते हैं कि ‘भारत देश हमारा प्यारा है’|
    यहाँ ‘देश’ शब्द का लिंग निर्धारित होता है , ‘भारत’ शब्द का नहीं. तो इससे यह साबित होता है की ‘भारत’ तो माता है, परन्तु ‘देश’ शब्द पुल्लिंग है |

    आशा है आपकी शंका का निवारण हो गया हो |

    सधन्यवाद !

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: